प्रेग्नेंसी में, बी कॉम्प्लेक्स या कोलिन का महत्त्व

भाषा चयन करे

31st May, 2017

Pregnancy mein B Complex ya choline ka mahatva | प्रेग्नेंसी में बी कॉम्प्लेक्स या कोलिन का महत्त्व | B complex importance in pregnancy कोलिन, B-कॉम्प्लेक्स विटामिन को कहा जाता है। इसका निर्माण या तो लिवर (जिगर) में वसा के चयापचय के दौरान होता है, या फिर इसे, अपने आहार में, मांस, मच्छी, सूखे मेवे, फलियां, पालक, संपूर्ण अनाज और अण्डों से भी प्राप्त किया जा सकता है। गर्भावस्था के दौरान, डॉक्टर इस विटामिन का प्रयोग भी करने की सलाह महिलाओं को देते हैं।

Image Source

यह विटामिन भी फॉलिक एसिड की ही तरह बच्चे की रीढ़ की हड्डी (स्पाइनल कोर्ड) और मस्तिष्क से जुड़ी समस्या को रोकने के लिए जरुरी होता है। साथ ही यह मस्तिष्क के विकास के लिए भी जरुरी होता है।
मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी के अलावा यह मजबूत हड्डियों के लिए भी बहुत जरुरी है और साथ ही महिलाओं में ब्लड प्रैशर को बढ़ने से रोकता है। गर्भवती महिलाओं को प्रत्येक दिन कम से कम 450 मिलीग्राम कोलिन जरूर लेना चाहिए। वहीं इसकी मात्रा 3500 मिलीग्राम से ज्यादा नहीं होनी चाहिए।

किस-किस चीज में पाया जाता है कोलिन?

  • अंडा, उबला हुआ- 272 मिलीग्राम
  • ब्रोकोली या फूलगोभी, 1 1/4 कप (पकी हुई)- 40 मिलीग्राम
  • 1 अंकुरित अनाज- 202 मिलीग्राम
  • एक अंडा (बड़ा)- 147 मिलीग्राम
  • 3 औंस बीफ़ (पका हुआ)- 97 मिलीग्राम
  • 3 औंस कैन्ड पिंक सैलमन- 75 मिलीग्राम
  • 3 औंस कैन श्रिम्प (झींगे)- 69 मिलीग्राम
  • 1 कप कटी और उबली हुई ब्रोकोली- 63 मिलीग्राम
  • 8 औंस बिना मलाई का दूध- 38 मिलीग्राम
  • 2 चम्मच छोटी चम्मच पीनट बटर (मूंगफली मक्खन)- 20 मिलीग्राम
  • 1.5 औंस चॉकलेट मिल्क- 20 मिलीग्राम
  • 1 औंस मूंगफली- 15 mg

वैसे तो आप कोलिन की पर्याप्त मात्रा अपने आहार से भी ले सकती हैं, लेकिन यदि आपको लगता है कि आप आहार से प्रयाप्त मात्रा में इस पोषक तत्व का सेवन नहीं कर पा रही हैं तो अपने डॉक्टर से बात करिए, वह आपको सप्लीमेंट देकर भी इसकी आपूर्ति कर सकता है।



अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !





अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !