सीएमवी के संक्रमण से बचने के लिए रोकथाम और सावधानियाँ

भाषा चयन करे

15th March, 2018

साफ़-सफाई बहुत सी बीमारियों ख़ास तौर पर संक्रमण से बचा कर रखने के लिए बेहद आवश्यक होती है। यह बात सीएमवी के मामले में भी लागू होती है। सीएमवी में, घर के साथ-साथ शरीर की सफाई और ऐसी चीजों के संपर्क में आने से बचना भी बेहद ज़रूरी होता है, जिनसे इस संक्रमण के होने का ख़तरा हो। सीएमवी संक्रमित व्यक्ति के शरीर के तरल के द्वारा अन्य व्यक्तियों में प्रवेश करता है। ऐसे में यह आवश्यक है कि अन्य व्यक्तियों के तरल, चाहे वह पसीना ही क्यों न हो से दूर रहा जाए।

ऐसा इसलिए क्योंकि सीएमवी से संक्रमित रोगी में इसके लक्षण नज़र नहीं आते। यह ऐसा संक्रमण नहीं है, जो लक्षण के साथ आता है और दवाओं या अन्य उपचार के बाद ठीक हो जाता है। बल्कि यह एक ऐसा संक्रमण है, जो शरीर में रहते हुए भी किसी तरह की परेशानी पैदा नहीं करता और व्यक्ति को इसके शरीर में होने की जानकारी तक नहीं होने देता।

सीएमवी के संक्रमण से बचने के लिए बरती जाने वाली सावधानियां-

  • हाथ साफ़ रखें- हाथों को हमेशा साबुन से 15 से 20 सेकेण्ड तक धोएं। खास तौर पर कुछ भी खाने और छोटे बच्चों को छूने से पहले।
  • घर और आस-पास साफ़ सफाई रखें।
  • संक्रमित व्यक्ति के साथ सम्पर्क में आने, एक प्लेट में खाने या पानी पीने से बचें।
  • ऐसी चीजों जिन्हें नष्ट कर देना चाहिए को छूने से बचें। उन्हें छूने के बाद, हाथों को साबुन से अच्छे से धोएं।
  • आप आस-पास रहने वाले व्यक्तियों के बारे में तो जान सकते हैं कि उसे कोई संक्रमण है, लेकिन बाहरी व्यक्तियों के बारे में नहीं जान सकते। इसलिए बाहर थोड़ा सम्भल कर रहें। खास तौर पर कई बार संक्रमित व्यक्ति को भी नहीं पता होता कि उसे सीएमवी का संक्रमण है। वह अनजाने में यह संक्रमण दूसरे को भी पकड़ा सकता है।
  • बच्चों के खिलौनों को हमेशा साफ रखें। गंदी चीजों की पकड़ से बच्चों को बहार रखें। खास तौर पर जिस पर बच्चे ने पहले से लार लगाई हो, उन चीजों को धोने के बाद ही उन्हें दें।
  • अंतरंग संबंधों के दौरान भी यह संक्रमण फैलता है इसलिए अंतरंग संबंधों में इसके आदान-प्रदान से बचने के लिए सुरक्षा का प्रयोग करें।

यदि किसी व्यक्ति की इम्युनिटी कमज़ोर हो और सीएमवी संक्रमण के होने की आशंका हो तो उसे समय रहते एंटीवायरल दवाओं का प्रयोग कर लेना चाहिए।

उन महिलाओं के लिए जो माँ बनने की तैयारी कर रहीं हैं, ऐसे टीकों की भी खोज की जा रही है, जो इन्हें गर्भावस्था में सीएमवी के संक्रमण से सुरक्षित रख सके और साथ ही महिलाओं के होने वाले बच्चों को भी। इससे नवजात शिशुओं में सीएमवी के कारण पनपने वाली जन्मजात बीमारियों के होने की संभावना कम हो जाएगी।

Master Blood Check-up covering 61 tests like Iron, Vitamn D, Thyroid Function, Complete Hemogram, Renal Profile, Lipid & Cholestrol Profile just in 299 RS click now to avail offer



अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !





अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !