पैरों में होने वाले फंगस के लिए कुछ घरेलू उपाय

भाषा चयन करे

27th June, 2016

Kya gharelu upayon se theek ho sakta hai foot fungus? | क्या घरेलू उपायों से ठीक हो सकता है फूट फंगस? | Can foot fungus be cured by home remedies? पैरो में होने वाले फंगल संक्रमण को एथलीट फुट या फुट फंगस कहा जाता है। जब शरीर की ऊष्मा से पैर गर्म और पसीने के कारण नमी लिए होते हैं, तब उनमे फंगल संक्रमण होने का जोखिम बढ़ जाता है। एथलीट फुट का इलाज समय पर न होने पर फंगल संक्रमण पैरों में तेज़ी से फ़ैल सकता है। जिससे त्वचा पर दरारे और छाले बन जाते हैं। इन दरारों से खून भी निकलने लगता है। इन समस्याओं के अलावा, त्वचा की परत संक्रमित होने की वजह से पैर में कुछ अन्य बैक्टेरियल संक्रमण भी हो सकते हैं। अगर बचाव के बाद भी फुट फंगस हो रहा तो तो, कुछ घरेलू उपायों से बढ़ते संक्रमण को काबू में किया जा सकता है।

Image Source

एथलीट फुट की समस्याओं में फायदेमंद कुछ घरेलू उपाय-

एप्पल साइडर विनेगर- एप्पल साइडर विनेगर, सिरके के अनेकों प्रकारों में से एक है। 1:3 के अनुपात में, यह सिरका और गुनगुना पानी मिलाएं। इस मिश्रण में अपने पैर 15 से 20 मिनट भिगोएं। पैरों को सुखाने के लिए तोलिये से न पोंछे, हल्क़े हाथ से तोलिये द्वारा ऊपर की नमी हटा दें और पैरों को हवा लगने दें।

लहसुन का रस- लहसुन में एंटी फंगल गुण होते हैं। लहसुन का रस संक्रमित हिस्से पर लगाया जा सकता है या उसकी कली को छील कर उंगिलयों के बीच रखा जा सकता है। जैतून के तेल के साथ लहसुन के रस को मिलाकर पैर के प्रभावित हिस्से पर 15-20 लगाने से आराम मिलता है।

दही-हल्दी का लेप – दही में कुछ चुटकी हल्दी मिला कर उसका पेस्ट तैयार कर लें। फिर पैर पर इस लेप को 20 से 25 मिनट लगा रहने दें। दही से पैरों में हो रहा दर्द कम होता है। हल्दी में फंगस को कम करने के गुण होते हैं। संक्रमण की स्थिति अनुसार इसे रोज़ाना या हफ्ते में 2 बार किया जा सकता है।

नमक, बेकिंग सोडा या नीम – गर्म या गुनगुना पानी जिसमे आप अपने पैर डूबा सकें में हर कप के अनुपात में एक चम्मच नमक मिलाएं। इस पानी में अपनी क्षमता के हिसाब से ज़्यादा से ज़्यादा समय पैर डुबाएं। फिर तोलिये या साफ़ कपडे की मदद से बिना पोंछे हल्के हाथ से सूखा लें। नमक के अलावा बेकिंग सोडा या नीम का प्रयोग गर्म पानी के साथ करने पर फंगस और बैक्टेरिया संक्रमण को ख़त्म करता है।

डेड मोबिल आयल (इस्तेमाल किया गया मोबिल आयल) और सुबह उठने के बाद व्यक्ति की लार को फंगस संक्रमण पर लगाने से भी एथलीट फुट कम होता है।

 



अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !





अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !