स्वाइन फ्लू के घरेलू इलाज

भाषा चयन करे

3rd October, 2015

Swine Flu ke liye 6 Gharelu upchar | स्वाइन फ्लू के लिए 6 घरेलू उपचार | 6 Home Remedies for Swine Fluयहाँ कुछ ऐसी चीजें दी जा रही है, जिनसे इसके मरीजों को इस बीमारी में राहत और रोग से लड़ने की क्षमता दोनों मिलती है। जहाँ एक और ऐसे मरीजों का उपचार एंटीवायरल दवाइयों से किया जाता है, वहीं अगर इसके अलावा उसे घर पर भी स्वास्थ्य वर्धक खान-पान और कुछ घरेलू उपचारों का प्रयोग किया जाए तो स्वाइन फ्लू के मरीज जल्दी ही इस बीमारी से निजात पा सकतें हैं।

Image Source

तुलसी
जहाँ तक बात किसी भी संक्रमणकारी बीमारी की आती है, तो इसमें तुलसी को सबसे अच्छा माना जाता है। जहाँ एक ओर तुलसी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाती है, वहीं दूसरी और शरीर से वायरस को खत्म करने में भी मददगार साबित होती है। सुबह-शाम तुलसी के पत्ते चबाने से स्वाइन फ्लू से छुटकारा पाया जा सकता है।

रोज़ सुबह खाली पेट तुलसी की पत्तियां चबाएं। यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर शरीर को इसके संक्रमण से बचाती है। सुबह खाली पेट तुलसी के पत्ते चबाएं जा सकतें हैं, या इसकी चाय बना कर भी पीयी जा सकती है।

हल्दी
हल्दी रक्त में संक्रमण को दूर करती है, और उसे साफ करती है। रात को सोते समय या दिन में कभी भी एक ग्लास गर्म दूध के साथ छोटी चम्मच हल्दी मिलाकर पीने से स्वाइन फ्लू से राहत पाई जा सकती है।

लहसुन
लहसुन की दो कलियाँ रोज सुबह गुनगुने पानी के साथ चबाएं, लहसुन से इम्यूनिटी ज्यादा बढ़ती है।

काली मिर्च, पिपली और सूंड की थोड़ी -थोड़ी मात्रा पीस कर चूरन बना लें 2-3 ग्राम दिन में दो बार शहद के साथ लें ।

गिलोय
गिलोय को भी इस बीमारी में काफी लाभदायक माना जाता है। यह औषधि बनाने के लिए गिलोय की एक शाखा में तुलसी की 5-6 पत्तियाँ मिलाकर इसे 15 से 20 मिनट तक उबाल कर छान लें, अब इसमें थोड़ी-थोड़ी सी मात्रा में (आसानी से पी जाए या स्वाद के अनुसार) काली मिर्च, सेंधा नमक या काला नमक और मिश्री मिला लें| इस पानी का सेवन करें।

नीम
नीम संक्रमण और खून को साफ़ करने में सबसे कारगार औषधि है, यदि आप सुबह रोज खाली पेट नीम की कच्ची कलियाँ चबाएं तो आपको कोई संक्रमण वैसे ही नहीं होगा। लेकिन यदि आप स्वाइन फ्लू से पीड़ित हो चुकें हैं, तो भी यह इसके वायरस को आपके शरीर से बाहर निकालने में बेहद लाभदायक हो सकता है।

विटामिन सी
विटामिन सी शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में बेहद महत्वपूर्ण विटामिन है। कोशिश करें कि आप दिन भर में कोई न कोई विटामिन सी से भरपूर फल जैसे आंवला, निम्बू, किन्नू मौसमी या संतरा अवश्य लें।

अदरख, काली मिर्च, तुलसी और लौंग को मिलाकर चाय बनाएं और इसका नियमित तौर पर सेवन करें। यह न सिर्फ शरीर को रोगों से लड़ने की क्षमता देती है, बल्कि इससे शरीर का संक्रमण भी खत्म होता है।



अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !





अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !