दाद की समस्या

भाषा चयन करे

23rd June, 2016

Twacha par daad ki samasya kaise ho jati hai? | त्वचा पर दाद की समस्या कैसे हो जाती है? | How Ringworm is caused on the skin?दाद, कवक (फंगस) के कारण होने वाला एक ऐसा संक्रमण होता है। गोलाई में फैलने वाले इस संक्रमण के फंगस, माइक्रोस्पोरोन, ट्राकॉफाइटॉन, एपिडर्मोफाइटॉन या टीनिया जाति के होते हैं। जॉक खुजली भी दाद का ही एक प्रकार है, जिसका कारण त्वचा पर पड़ने वाले चकते होते हैं। यह संक्रमण पुरुषों, महिलाओं और बच्चों में से किसी को भी हो सकता है। लेकिन इस तरह की समस्या, एथलीटों में ज्यादा देखी जाती है।

Image Source

दरसल दाद का कारण कोई कृमि नहीं होता। बल्कि इसका कारण एक फंगस होता है। यह फंगस त्वचा की ऊपरी सतह पर पाए जाते हैं। यदि मौसम में नमी हो, या उस स्थान की त्वचा ज्यादातर नम रहती हो, इनके पनपने का ख़तरा उसी जगह ज्यादा रहता है। दाद एक संक्रामक रोग होता है और यह एक ही व्यक्ति के शरीर के अलग-अलग हिस्सों के साथ उससे किसी अन्य व्यक्ति को भी लग सकता है।

यह रोग किसी अन्य व्यक्ति के कपड़ों जैसे, तौलिया, चादर या पहनने वाले कपड़ों से एक व्यक्ति से दूसरे में जा सकता है। खुजली युक्त इस संक्रमण की बनावट वैसे तो गोल होती है, लेकिन कभी-कभी यह यह बिना किसी आकार के भी हो सकती है।

यह संक्रमण शरीर के किसी भी हिस्से जैसे, बगल, पैर, हाथ टांग, पेट, सिर की त्वचा या कमर किसी भी जगह हो सकता है। यह समस्या ज्यादातर धावकों (एथलीटों) के पैरों में देखने को मिलती है। यदि यह समस्या हथेलियों में हो तो, इससे हथेलियों की त्वचा, मोती दागदार और रूखी-सूखी हो जाती है। वहीं, यदि यह समस्या उँगलियों के बीच में हो तो और भी भद्दी दिखती है। यदि किसी व्यक्ति में, गोल या चपटे किसी भी आकार के चकते नजर आ रहे हों, जिनमें खुजली होती हो तो वह दाद भी हो सकता है।

ऐसे में, आप इस तरह की समस्या से निजात पाने के लिए या तो बिना डॉक्टर की सलाह के कोई एंटी फंगल क्रीम का प्रयोग कर सकते हैं। या फिर कई बार घरेलू नुस्खे से भी यह ठीक हो जाता है। लेकिन यदि ऐसा नहीं होता तो आप अपने डॉक्टर से इसकी जांच करा कर सही उपचार करा सकते हैं।



अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !





अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !