डायबिटीज को नियंत्रित करने के लिए सही नियम

भाषा चयन करे

19th April, 2016

Madhumeh ke Upchar ke Liye Disha Nirdesh | मधुमेह के उपचार के लिए दिशा-निर्देश | Guidelines for Management of Diabetesडायबिटीज में महत्वपूर्ण है प्रबंधन

डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है, जो बेहद आम होने के साथ-साथ बेहद घातक भी है। इस बिमारी की सबसे घातक बात यह है कि इसे काफी लम्बे समय तक जाँच में भी पहचान पाना मुश्किल होता है। यदि यह बीमारी शुरू में ही पकड़ में आ जाए तो इसे बढ़ने से रोका जा सकता है, लेकिन ऐसा ना हो पाने के कारण इसकी घातकता और भी बढ़ती जा रही है।

इसीलिए हर व्यक्ति के लिए यह जरूरी है कि वह शुरु से ही अपनी जीवन शैली को ऐसा बनाएं जिसके कारण यह बिमारी उनके शरीर में घर न बना पाए। लेकिन यदि ऐसा हो चुका है, तो भी इसके उचित प्रबंधन के द्वारा डायबिटीज पर रोक लगा सकतें हैं।

डायबिटीज की संभावनाओं से पहले प्रबंधन

आपकी सबसे पहली कोशिश तो ये होनी चाहिए कि आपकी दिनचर्या ऐसी हो जिससे आपको यह बीमारी छू भी न पाएं। इसके लिए आपको अपनी दिनचर्या और खान-पान को उचित तरीके से समायोजित करना है।

जैसे:

  • देर रात मुश्किल से पचने वाला आहार न लेना।
  • तला-भुना, मसालेदार, और बाहर खाने से बचना।
  • लगातार व्यायाम करना, और दिनचर्या भी क्रियाशील होना।
  • ज्यादा शुगर का प्रयोग न करना।
  • बढ़ते वजन को नियंत्रित करना।
  • परिवार में डायबिटीज का इतिहास होने के बावजूद इसे नजरअंदाज न करना।
  • यदि लक्षण नजर भी आ रहें हों, तो भी उन्हें नजरअंदाज करना।

डायबिटीज की पुष्टि के बाद प्रबंधन

  • उचित खान-पान का सख्ती से पालन
  • नियमित एक्सरसाइज की आदत बना लेना।
  • दवाइयों की उचित जानकारी, उनका उचित पालन।
  • निरंतर ब्लड शुगर की जाँच।
  • ब्लड शुगर के अनुसार, अपने खान-पान और व्यायाम में बदलाव करना।
  • डॉक्टर से निरंतर सम्पर्क में रहना।
  • डायटीशियन या डॉक्टर से मिलकर अपने खान-पान को ट्रैक पर रखना।



अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !





अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !