डायबिटीज उपचार के लिए प्राकृतिक पूरक आहार

भाषा चयन करे

22nd March, 2016

Madhumeh ke Upchar ke Liye Sabse Achha Prakritik Purak Aahar | मधुमेह के उपचार के लिए सबसे अच्छा प्राकृतिक पूरक आहार | Best Natural Dietary Supplements for Diabetes Treatmentक्रोमियम

डायबिटीज में, क्रोमियम के उपयोग से कई सालों से बहस चल रही है। बहुत से अध्ययनों में कहा गया है कि क्रोमियम सप्लीमेंट डायबिटीज को नियंत्रित करने में मदद करता है। क्रोमियम, ऐसे कारकों की बढ़ोत्तरी करता है, जिनसे ग्लूकोज़ टॉलरेंस में मदद मिलती है। इस से इन्सुलिन को कार्य करने में भी आसानी होती है। लेकिन डायबिटीज के मामले में, क्रोमियम को लेकर बेहद कम जानकारियों के कारण, इसे अभी स्वीकारती नहीं मिली है।

जिनसेंग

हालाँकि इस श्रेणी में बहुत से पौधें आते हैं, लेकिन डायबिटीज के लिए अमेरिकन जिनसेंग ही अध्ययनों में फायदेमंद बताया गया है। अध्ययनों में पाया गया है कि यह शुगर को कम करने में प्रभावी है। यह खली पेट और खाना खाने के बाद ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित रखती है। इसी प्रकार यह A1c स्तर के नियंत्रण में भी मददगार है। अध्ययनों में यह भी पाया गया है कि जिनसेंग में ब्लड शुगर को कम करने वाले तत्व बहुत ज्यादा मात्रा में पाए जाते हैं।

मैगनेशियम

हालाँकि, मैगनेशियम और डायबिटीज के बीच में संबंधों पर दशकों से खोज़-बीन चलती आ रही है। लेकिन अभी तक इसके नतीजों पर नहीं पहुंचा जा सका है। वहीं अध्ययनों में पाया गया है कि शरीर में मैगनेशियम की कमी, टाइप 2 डायबिटीज के मरीजों में, ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित कर सकती है। वैज्ञानिकों का मानना है कि मैगनेशियम की कमी, अग्नाशय में, इन्सुलिन के स्त्राव में दखलंदाजी करती है। जिस से शरीर के उत्तकों द्वारा भी इंसुलिन का प्रतिरोध बढ़ जाता है। अध्ययनों से मिले सबूतों के आधार पर देखा गया है कि मैगनेशियम की कमी, डायबिटीज के कारण होने वाली कुछ और बिमारियों को भी बढ़ावा देती है। एक हालिया विश्लेषण में पाया गया है कि जिन लोगों द्वारा मैगनेशियम की मात्रा ज्यादा ली जाती है, उनमें टाइप 2 डायबिटीज का ख़तरा इतना ज्यादा नहीं होता।

वैनेडियम

वैनेडियम, एक ऐसा तत्व है जो, जानवरों और पौधों में पाया जाता है। कुछ पुराने शोधों में पाया गया है कि वैनेडियम, यह सप्लीमेंट जानवरों में, टाइप 1और 2 डायबिटीज में, ब्लड शुगर के स्तर को कम करने में मदद करता है। एक हालिया खोज में पाया गया है कि डायबिटीज से पीड़ित व्यक्तियों को जब, वैनेडियम दी गई, तो इससे उनके इन्सुलिन की संवेदनशीलता में कुछ बढ़ोत्तरी हो गई, जिसके बाद उनमें इन्सुलिन को कम करने की जरूरत पड़ी। हालिया खोजकर्ता भी अब शरीर में वैनेडियम के प्रभावों (अच्छे और बुरे दोनों) पर अध्ययन करना चाहतें हैं।

सह-एंजाइम Q10

सह-एंजाइम Q10, जिसे ज्यादातर CoQ10 (ubiquinone and ubiquinol) के तौर पर जाना जाता है, यह एक विटामिन के जैसा पदार्थ है। CoQ10 एक एंटीऑक्सीडेंट के तौर पर कार्य करता है और सेल्स को ऊर्जा बनाने में मदद करता है। यह ज्यादातर समुंद्री खाद्य-पदार्थों में थोड़ी सी मात्रा में पाया जाता है। इसके कुछ अन्य सप्लीमेंट्स टेबलेट और दवाइयाँ भी हैं। हालाँकि, CoQ10’s के, डायबिटीज के लिए पूरक या वैकल्पिक चिकित्सा के संबंध में प्रभावी होने को लेकर प्रयाप्त साक्ष्य नहीं हैं। साथ ही अभी तक CoQ10 का ब्लड शुगर पर प्रभाव भी सामने नहीं आया है।



अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !





अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !