टाइप 2 डायबिटीज में लाभप्रद कुछ प्राकृतिक हर्ब्स

भाषा चयन करे

8th September, 2015

Type 2 Madhumeh ke Liye Sabse Achha Prakritik Herbs | टाइप 2 मधुमेह के लिए सबसे अच्छा प्राकृतिक हर्ब्स | Best Natural Herbs for Type 2 Diabetes डायबिटीज के उपचार के लिए बहुत तरीकें हैं, जो अपनाएं जाते हैं। इन तरीकों में, प्राकृतिक दवाइयाँ, वैकल्पिक चिकित्सा, पारम्परिक दवाइयाँ और कुछ घरेलु नुस्खें शामिल हैं।

वहीं डायबिटीज के लिए प्रयोग की जाने वाली थेरेपी में, बहुत सी चीजें हैं हो शामिल होती हैं, जैसे व्यायाम, खान-पान, मानसिक स्थिति और जीवन शैली में बदलाव। वहीं वैकल्पिक उपचारों में, एक्यूपंक्चर, निर्देशित कल्पना, काइरिप्रैक्टिक उपचार, योग, सम्मोहन, बायोफीडबैक, अरोमाथेरेपी, छूट व्यायाम, हर्बल उपचार, मालिश, और कई अन्य उपचार शामिल हैं।

कुछ लोग इसके लिए, पूरक या वैकल्पिक थेरेपी भी लेते हैं। हालाँकि ऐसा जरुरी नहीं है कि यह सभी थेरेपी आपके लिए उपयोगी हों, कुछ थेरेपी आपके लिए हानिकारक भी हो सकती हैं। ऐसे लोग जो पूरक या वैकल्पिक दवाइयों का प्रयोग करतें हैं, उन्हें इसके बारे में अपने डॉक्टर को भी जानकारी जरूर देनी चाहिए।

पूरक चिकित्सा, को परंपरागत उपचार, के साथ प्रयोग किया जाता है। वहीं वैकल्पिक दावाइयों को पारंपरिक दवाइयों के स्थान पर प्रयोग किया जाता है।

डायबिटीज के इलाज में प्रभावी प्लांट फ़ूड

इन संयंत्र खाद्य पदार्थों, का प्रयोग कभी-कभी टाइप 2 डायबिटीज के लिए किया जाता है।

  • ईस्ट पाउडर
  • कुट्टू
  • ब्रोकोली और ऐसी ही दूसरी सब्जियां
  • दालचीनी
  • लौंग
  • कॉफ़ी
  • भिंडी
  • मटर
  • मेथी के बीज
  • सेज़ (Sage)

ज्यादातर, प्लांट फ़ूड में पाये जाने वाले फाइबर और मिनरल्स डायबिटीज और स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। कुछ नई खोजों में सामने आया है कि कुछ प्लांट फ़ूड, जैसे दालचीनी, लौंग, और कॉफी सूजन में आराम देने के साथ-साथ, इन्सुलिन की भी सहायता करता है। जिससे ब्लड शुगर का स्तर नियंत्रण में आ जाता है। अध्ययनों में पाया गया है कि दालचीनी का अर्क शुगर मेटाबोलिज्म को दुरुस्त कर सकता है। इसके अलावा, यह इन्सुलिन के बनने की प्रक्रिया और कोलेस्ट्रोल मेटाबोलिज्म पर भी सकारात्मक प्रभाव ड़ालता है। लौंग तेल अर्क (Eugenol), इन्सुलिन के कार्यों को इम्प्रूव कर, ब्लड ग्लूकोज के स्तर को कम करता है। इसके अलावा यह, टोटल कोलेस्ट्रॉल, LDL, और ट्राइग्लिसराइड्स के स्तर को भी कम करता है। इसके अलावा हालिया एक स्टडी के अनुसार, कॉफी में पाया जाने वाला एक विशेष प्रकार का तत्व (कैफीन नहीं) इन्सुलिन की संवेदनशीलता को बढाकर, टाइप 2 डायबिटीज के रिस्क को कम करता है।.

इसके अलावा कुछ और खाद्य-पदार्थ जैसे, लहसुन, अदरख, जिनसेंग,,नागफनी, या बिछुआ, इन्हें भी ब्लड शुगर के नियंत्रण में लाभदायक माना जाता है। हालाँकि अभी तक इसे किसी अध्ययन में स्वीकृति नहीं दी गई है। यदि आपको डायबिटीज है और आप इनका प्रयोग करने की सोच रहें हैं तो एक बार इसके बारे में अपने डॉक्टर से बात जरूर कर लें।

डायबिटीज में वजन घटाने वाले पदार्थ और इलाज

नीचे दिए गए कुछ प्लांट फ़ूड, कभी-कभी डायबिटीज टाइप 2 के इलाज के लिए प्रयोग किये जाते हैं। क्योंकि वजन और डायबिटीज भी आपस में सम्बंधित हैं, इसीलिए डायबिटीज से पीड़ित बहुत से लोग प्राकृतिक थेरेपियां द्वारा इसका ट्रीटमेंट लेतें हैं। इनमें उन लोगों की संख्या ज्यादा होती है, जिन्हें वजन घटाने की भी जरूरत होती है।

  • काइटोसन
  • गार्सिनिअ कम्बोजिा (हाइड्रोसीट्रिक एसिड)
  • क्रोमियम
  • पाइरूवेट
  • जर्मेन्डर
  • करेला
  • सुरसरबी (मीठा पत्ता झाड़ी)
  • अरिस्टोलोचिक एसिड

इन औषधियों का प्रयोग, वजन घटाने के लिए किया जाता है। इन औषधियों का प्रयोग कर, ट्रांसडर्मल (त्वचा पैच) सिस्टम और ओरल स्प्रे तैयार किया गया है। यह न सिर्फ शरीर पर जमी चर्बी को पिंघलाने का कार्य करती है। पैच सिस्टम, में 29 अलग-अलग प्रकार के होमियोपैथिक यौगिकों का प्रयोग भूख मिटाने के लिए किया जाता है। हालाँकि अभी तक, इसके इसके इस तरह के फायदों को लेकर किसी प्रकार की कोई खोज सामने नहीं आई है।



अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !





अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !