डायबिटीज होने पर किन बातों का रखें ख्याल?

भाषा चयन करे

21st January, 2016

Madhumeh ko Prarambhik Charan mein Niyantrit karne ke sabse achhe tips | मधुमेह को प्रारंभिक चरण में नियंत्रित करने के सबसे अच्छे टिप्स | Best Tips to Control Diabetes at Starting Stageयदि आपको अभी-अभी पता चला है कि आपको डायबिटीज है, तो घबराए नहीं। आप अभी भी पहले जैसा ही सामान्य जीवन जी सकते हैं, और वह कर सकतें हैं जो आपको पसंद है। इसके लिए बस आपको डायबिटीज के प्रति जागरूक होना होगा, और स्वस्थ्य आहार के द्वारा इसे उसी जगह पर रोके रखना होगा।

Image Source

सबसे पहले क्या करें?

डायबिटीज के प्रति जागरूक बनें
यदि एक बार आपको जाँच के दौरान डायबिटीज की पुष्टि हो गई है, तो सबसे पहला कदम होना चाहिए वह यह, कि आपको डायबिटीज की पूरी जानकारी हो। इसके लिए आप डॉक्टर, या किसी स्वास्थ्य सलाहकार या अन्य किसी भी अच्छे जानकार से जानकारियां इकट्ठी कर सकतें हैं।

जीवन में बदलाव
डायबिटीज की पुष्टि के बाद आपको इस बात को सुनिश्चित कर लेना चाहिए कि वह कौन-कौन से बदलाव और आदतें हैं जो आपको छोड़नी और डालनी पड़ेगी। इन बदलावों में आपको ज्यादा कुछ नहीं करना है, सिर्फ आपको कुछ ऐसी चीजें हैं जो आपके लिए हानिकारक हैं वह छोड़नी होंगी और जो आपके स्वास्थ्य के लिए लाभप्रद हैं, उन्हें अपनाना होगा।

डॉक्टर से निरंतर सम्पर्क
डायबिटीज की पुष्टि होने के बाद सबसे महत्वपूर्ण बात जो आपको ध्यान में रखनी है, वह यह कि आपको निरंतर अपने डॉक्टर के सम्पर्क में रहना होगा। इसके अलावा डायबिटीज एजुकेटर, डायटीशियन और कुछ अन्य विशेषज्ञ जो डायबिटीज से सम्बंधित जानकारी रखते हैं, आप उनसे भी जुड़ सकतें हैं। यदि आपके आस-पास या फिर जान-पहचान में किसी को भी यह बिमारी है, तो उस से बात करें।

मेडिकल ट्रीटमेंट
डायबिटीज के मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए आप पूरी तरह से अपने डॉक्टर पर निर्भर रहते हैं, और इसके लिए जरुरी होता है कि आप अपने डॉक्टर से निरंतर सम्पर्क में रहें। ट्रीटमेंट के तौर पर, आपका डॉक्टर आपको डायबिटीज के लिए दवाइयाँ, आपकी बिमारी और लक्षणों और जटिलताओं के आधार पर ही देता है। यदि आपको इन्सुलिन की आवश्यकता होती है, तो भी डॉक्टर इसे आपके स्वास्थ्य के अनुसार ही निर्धारित करेगा।

डायबिटीज पर खुद रखें नियंत्रण
डायबिटीज की जांच होने के बाद, इस बिमारी को अपने शरीर में जड़ें ने जमाने देने में, जिसका सबसे महत्वपूर्ण योगदान होता है, वह आप खुद होतें हैं। आपका स्वास्थ्य और बिमारियां आपके अपने जीवन जीने के तरीके और खान-पान पर ही टिकी होती है। यहाँ तक कि आपके शरीर पर दवाइयाँ भी बेहतर असर तभी करती हैं, यदि आप अपने स्वास्थ्य को सभी जरुरी पोषक तत्व प्रदान करतें हैं और नियमित तौर पर एक्सरसाइज करते हैं।

क्या करें?

स्वस्थ्य आहार लें, हर एक खाद्य-पदार्थ जो आप ले रहें हैं, उसका असर आपकी डायबिटीज पर सकारात्मक होना चाहिए, नकारात्मक नहीं और इसकी जानकारी आप अपने डॉक्टर या डायटीशियन से ले सकतें हैं। ज्यादा से ज्यादा एक्टिव रहें, नियमित रूप से व्यायाम करें। सबसे महत्वपूर्ण बात कि अपने डॉक्टर से घर पर ही ब्लड शुगर चेक करने की जानकारी ले लें और खुद इस पर नजर रखें।



अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !





अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !