मैक्यूलर डिजनेरेशन के लक्षण

भाषा चयन करे

23rd December, 2017

हमने अपने पहले लेख में मैक्यूलर डिजनेरेशन यानी चकत्तेदार अध: पतन के बारे में बात कर चुके हैं।   मैक्यूलर डिजनेरेशन एक ऐसी समस्या होती है, जिसमें आँख के रेटिना (दृष्टिपटल) पर पीले रंग के धब्बे या गड्ढे जैसी संरचना बन जाने के कारण आँखों की रौशनी गंभीर रूप से प्रभावित होने लगती है। वहीँ यह समस्या 60 के बाद शुरू होती है, इसीलिए इसे उम्र से सम्बंधित समस्या भी कहा जाता है। इस समस्या का कोई स्थायी उपचार नहीं होता और इसकी सिर्फ़ रोक थाम की का जा सकती है।

हम अपने इस लेख में मैक्यूलर डिजनेरेशन के उन लक्षणों की के बारे में बात कर रहें हैं, जिनसे इस बिमारी को पहचाना जा सकता है। मैक्यूलर डिजनेरेशन जो दो प्रकार का (सूखा और नम) होता है, इसके लक्षण भी इन दोनों के आधार पर थोड़े अलग होते हैं। या यूं कहें कि जब तक मैक्यूलर डिजेनरेशन सूखा यानी नमी रहित रहता है, यह शुरुआती स्थिति होती है और धीरे-धीरे बढ़ते-बढ़ते यह समस्या नम मैक्यूलर डिजेनरेशन में बदल जाती है, जिनका असर आँखों पर और ज़्यादा पड़ता है।

मैक्यूलर डिजनेरेशन या अध: पतन के लक्षण

  • दृश्य विकृतियां जैसे- सीधी लाइनों का झुका हुआ नज़र आना।
  • एक या दोनों आँखों की मध्य दृष्टि को क्षति पहुँच जाना।
  • किताब पढ़ने में अन्य व्यक्तियों के मुकाबले ज़्यादा तेज़ रौशनी की आवश्यकता होना। थोड़ा सब ही अंधेरा होने पर कम दिखाई देना।
  • अक्षर धुंधले नजर आना।
  • कभी-कभी व्यक्त को गाढ़े रंग भी धुंधले दिखाई देने लगते हैं।  
  • चेहरों को ठीक से पहचान न पाना।
  • इस रोग सर ग्रसित व्यक्ति को कुछ भी दृश्य देखने के दौरान, बीच का दृश्य दिखाई नहीं देता। यानी काले रंग का गोल घेरा उसकी आँखों के सामने बना रहता है। और उस दायरे के सामने जो भी वस्तु या वस्तु का हिस्सा होता है, वह उसे नहीं दीखता।

यह समस्या ज़्यादातर दोनों आँखों को प्रभावित करती है। यदि किसी को सिर्फ एक ही आँख में मैक्यूलर डिजनेरेशन की समस्या हो तो उसे इसके होने का पता भी नहीं चल पाता क्योंकि उसकी दूसरी आँख से सही दिखाई देता है। यह एक ऐसी समस्या है, जिसमें रोगी को किसी किस्म की तकलीफ़ या दर्द नहीं होता और इसीलिए जब आँखों की दृष्टि धुँधली पड़ने लगती है, तब ही इसकी जानकारी होती है।

ठीक समय पर लक्षणों की पहचान और नेत्र-विशेषज्ञ द्वारा की गई जाँच के द्वारा इस नेत्र रोग के बढ़ने की गति को धीमा किया जा सकता है।



अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !





अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !