घेंघा अर्थात गॉइटर रोग का उपचार

भाषा चयन करे

7th March, 2016

Kaise kiya jata hai Goitre ka upchar? | कैसे किया जाता है घेंघा रोग का उपचार? | How to treat Goitre?घेंघा, जोकि थायराइड ग्रंथि की वृद्धि के कारण होने वाला रोग है, इसमें गला फूल जाता है। इसे गॉइटर, गलगण्ड और गण्डमाला भी कहते हैं। क्योंकि इस रोग के अधिकांश मामलों में,रोगी को बहुत अधिक परेशानी नहीं होती, इसलिए इलाज की जरूरत भी नहीं होती। लेकिन कई बार, इस रोग के रोगियों को  कई प्रकार की परेशानियों का सामना भी करना पड़ सकता है। उदाहरण के तौर पर; तेजी वजन घटना या बढ़ना, हृदय गति कम या ज्यादा होना, रक्तचाप कम या ज्यादा होना, घबराहट या अवसाद, दस्त या कब्ज, मांसपेशियों में कमजोरी और हाथों में झटके लगना अथवा झुनझुनी या अकड़न होना, सुस्ती, शारीरिक और मानसिक कार्यों में धीमापन, ठंड सहन न कर पाना, आदि समस्याओं के साथ-साथ रोगी को साँस लेने, भोजन निगलने में परेशानी हो सकती है। ये स्थितियाँ थायराइड हॉर्मोन के सामान्य से कम या ज्यादा होने के कारण उत्पन्न होती हैं। यदि स्थितियाँ ज्यादा गम्भीर हो जाती हैं इनका उपचार आवश्यक हो जाता है।

Image Source

उपचार

यदि थायराइड का आकार छोटा हो और हॉर्मोन का स्तर भी लगभग सामान्य रहे तो इसके इलाज की जरूरत नहीं होती। खान-पान में परिवर्तन करके इसकी रोकथाम की जा सकती है। परन्तु यदि यह काफी बढ़ जाए और हॉर्मोन का स्तर भी बहुत बढ़ जाए, अथवा यह आवश्यक मात्रा में, हॉर्मोन को उत्पन्न करने में  सक्षम न हो और समस्या बढ़ जाए तो मेडिकल ट्रीटमेंट की जरूरत पड़ती है।

  • दवाओं के द्वारा उपचार – घेंघे रोग के उपचार में, थायराइड हॉर्मोन को सामान्य स्तर में फिर से लाना होता है, इसके लिए दवाएं दी जाती हैं। जब दवाओं का प्रभाव पड़ता है, तो थायराइड अपने सामान्य आकार में आने लगता है। लेकिन घेंघा की बड़ी गाँठे जिनके अंदर बहुत सारे स्कार टिश्यू होते हैं, वे दवाओं से ठीक नहीं होते हैं।
  • सर्जरी के द्वारा उपचार – यदि गण्डमाला बहुत ज्यादा परेशानीपूर्ण हो जाए, बहुत अधिक थायराइड हॉर्मोन बनने लग जाए, दवाओं से फायदा न हो अथवा कैंसर बनने की स्थिति में आ जाए तो सर्जरी करके पूरा थायराइड निकलना पड़ सकता है।

व्यक्ति का इलाज करने के दौरान डॉक्टर के द्वारा उसके घटने या बढ़ने या उसमें गाँठों के विकास की तुलनात्मक जाँच के लिए एक निश्चित समयांतराल के बाद अल्ट्रासाउंड करवाया जा सकता है।      



अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !





अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !