कार्डियक रिहेब- शारीरिक क्षमता बढ़ाने वाले व्यायाम के फायदे

भाषा चयन करे

18th November, 2015

Cardiac Rehabilitation ke Dauran Sharirik Shamata Badhane Wale Vyayam ke Fayede | कार्डियक रिहेबिलिटेशन के दौरान शारीरिक क्षमता बढ़ाने वाले व्यायाम के फायदे | Benefits of Strength Training Exercise Program during Cardiac Rehabilitationताकत लगाने वाले व्यायाम, हृदय रोगियों के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। इनसे मांशपेशियां मजबूत होती हैं और उनमें सहनशक्ति का भी विकास होता है। इससे आप कोरोनरी रोग होने के खतरे को भी कम कर सकते हैं।

Image Source

इससे आपको रोजमर्रा के कार्यों को करने में हृदय को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन, रक्त और पोषक तत्व मिल जाते हैं। इस से सभी प्रकार की गतिविधियों को करने के लिए आपमें सहन शक्ति बढ़ जाती है। आप इसे खुद भी शुरू कर सकते हैं, लेकिन बस इसकी शुरुआत से पहले आपको डॉक्टर से बात करनी होगी।

जब भी आप ताकत बढ़ाने वाले व्यायाम की ट्रेनिंग लेते हैं, तो सबसे पहले इस बात का खास ख्याल रखें कि आप उसे बिल्कुल सही तरीके से करें। इसमें, आपको कुछ बातों का खास ख्याल रखना चाहिए। जैसे आप सही तरह से साँस लें और उचित तीव्रता के साथ व्यायाम करें।

यहाँ हम आपको एक योजना बनाकर, उदाहरण दे रहे हैं, ताकि आप इसके आधार पर अपने सुविधानुसार योजना बना सकते हैं-

प्रकार ताकत बढ़ाने वाले व्यायाम (हाथों से वजन उठाना, मशीनों का प्रयोग)
तीव्रता
  • RPE: 11 से 13 तक( हल्के से लेकर कुछ हद तक मुश्किल)
  • बिना दबाब के
  • बिना दर्द के
  • 1 से 10 पौंड (लगभग 4. 5 Kg )
अवधि
  • एक सेट में 10 से 12 reps
  • हर एक्सरसाइज में 1 या 2 सेट्स
आवृत्ति
  • एक हफ्तें में 2 से 3 बार
  • अपने व्यायाम में एरोबिक एक्सरसाइज को जोड़े
प्रगति
  • प्रतिरोधी क्षमता को बढ़ाएं
  • हर सेट के बाद आराम करने के समय को कम करें
  • कुछ और व्यायाम जोड़ें

Master Blood Check-up covering 61 tests like Iron, Vitamn D, Thyroid Function, Complete Hemogram, Renal Profile, Lipid & Cholestrol Profile just in 299 RS click now to avail offer



अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !





अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !