कार्डियक रिहेबिलिटेशन (रिहेब)- जाँच और परीक्षण

भाषा चयन करे

18th November, 2015

Cardiac Puranvas ke Liye Janch aur Parikshan | कार्डियक पुनर्वास के लिए जाँच और परीक्षण की सूची | List of Exams and Tests for Cardiac Rehabilitationकार्डियक रिहेब टीम, आपके कार्डियक रिहेबिलिटेशन प्रोग्राम को शुरू करने से पहले, आपके जोखिम कारकों का मूल्यांकन भी करती है। इसमें यह देखा जाता है कि आपके हृदय को स्वस्थ कैसे रखना है और कौन-कौन सी ऐसी एक्सरसाइज हैं, जो आपके लिए सुरक्षित हैं। कार्डियक रिहेब प्रोग्राम शुरू करने से पहले और इसके दौरान बहुत सी जाँच की जाती हैं, ताकि आपका डॉक्टर यह सुनिश्चित कर ले कि आप सुरक्षित रूप से इस कार्यक्रम में हिस्सा ले सकते हैं, या नहीं। वह आपके स्वास्थ पर कड़ी निगरानी रखता है और यह देखता है कि आपको कितना स्वास्थ लाभ हो रहा है।

Image Source

यहाँ कुछ ऐसी ही जांचों के बारे में चर्चा की जा रही है, जिन्हें डॉक्टर, रिहेब प्रोग्राम शुरू करने से पहले करते हैं। मुख्य रूप से जाँच आपकी व्यायाम करने की क्षमता का पता लगाने के लिए किया जाता है। उसमें देखा जाता है कि आप कितनी कठिन एक्सरसाइज करने में समर्थ हैं, और इससे आपको कितना स्वस्थ लाभ मिल सकता है।

रेस्टिंग इलेक्ट्रोकार्डियोग्राम (Resting Electrocardiogram- EKG या ECG)- इस परीक्षण में इलेक्ट्रिकल सिग्नल को मापा जाता है, जो कि आपके हृदय गति को नियंत्रित करता है। इस परीक्षण का परिणाम एक ग्राफ के रूप में आता है, जिसे हम इलेक्ट्रोकार्डियोग्राम कहते हैं। कभी-कभी एक्सरसाइज प्रोग्राम शुरू करने से पहले, और अधिक व्यापक परीक्षण की जरूरत होती है तो डॉक्टर रेस्टिंग ECG भी करवाता है।

एक्सरसाइज इलेक्ट्रोकार्डियोग्राम (Exercise Electrocardiogram- ECG)- यह परीक्षण हृदय की विद्युतीय गतिविधि को रिकॉर्ड करता है। इसे स्ट्रेस और ट्रेडमिल टेस्ट के नाम से भी जाना जाता है। यह परीक्षण व्यायाम के दौरान यह जाँच करता है कि व्यायाम करते समय आपका हृदय किस गति से काम कर रहा है। इसी परिणाम के आधार पर डॉक्टर यह बताता है कि कितनी देर तक व्यायाम करना आपके लिए सुरक्षित है।

इकोकार्डियोग्राम (Echocardiogram – Echo)- यह एक प्रकार का अल्ट्रासाउंड टेस्ट होता है, जिसमें यह अनिमेष ध्वनि तरंगों (High-Pitched Sound Waves) का प्रयोग करके हृदय की तस्वीर बनाता है। एक डिवाइस जिसे ट्रान्सडूसर कहा जाता है, इसकी सहायता से ध्वनि तरंगों को हृदय तक भेजा जाता है और जहाँ पर यह हृदय की विभिन्न संरचना से टकरा कर वापस आ जाता है। इस परीक्षण के द्वारा यह पता लगाया जाता है कि आपका हृदय कितने अच्छे तरीके से ब्लड को पंप कर रहा है और आपके हृदय की वाल्व कितने अच्छे तरीके से काम कर  रहा है। कभी-कभी इसे एक्सरसाइज इलेक्ट्रोकार्डियोग्राम के साथ संयुक्त कर दिया जाता है।

कार्डिएक परफ्यूजन स्कैन (Cardiac Perfusion Scan)- इस परीक्षण में आराम करते समय और व्यायाम के दौरान, हृदय की मांसपेशियों तक पहुंचने वाले रक्त की मात्रा की जाँच की जाती है। यह परीक्षण बिना किसी वजह के सीनें में दर्द और हार्ट अटैक के बाद किस जगह और कितनी मात्रा में हृदय की मांसपेशियों की हानि का पता लगाने के लिए किया जाता है।

एम्बुलेटरी इकोकार्डियोग्राम (Ambulatory Electrocardiogram)- इसे होलटर मॉनिटरिंग टेस्ट (Holter Monitoring test) के नाम से भी जाना जाता है। इस परीक्षण के द्वारा, जब आप अपने रोजमर्रा के काम करते हैं, तो उस दौरान आपके हृदय की विद्युतीय गतिविधि पर नज़र रखी जाती है। हृदय से सम्बंधित बहुत सी समस्याएं तब होती हैं, जब आप कुछ काम करते हैं। जैसे- व्यायाम करते समय, खाना खाते समय, सेक्स, मानसिक तनाव, मल त्याग, या फिर जब आप सो रहे हैं तो भी आपको हृदय से सम्बंधित रोग हो सकते हैं। इसमें लगातार रिकार्डिंग की जाती है। जब आप कोई कार्य कर रहे होते हैं, तो यह इस से आपकी असामान्य हार्टबीट का पता लगा लिया जाता है, और उसे रिकॉर्ड भी कर लेता है।

कार्डियक रिहेब के दौरान कुछ और जाँच भी किये जाते हैं। यह जाँच आपके स्वास्थ में हो रहे सुधार पर नज़र रखने के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इस जाँच में शामिल है- रक्तचाप, कोलेस्ट्रॉल, वजन, और रक्त में शर्करा की मात्रा।

जब आप कार्डियक रिहेब शुरू करते है तो आप पर लगातार नज़र रखी जाती है। लेकिन जब एक बार आपकी एक्सरसाइज प्रोग्राम स्थापित हो जाती है, तो आपको लगातार मॉनिटर करने की जरुरत नहीं होती। लेकिन यदि आपके डॉक्टर को यह लगता है कि आपको कुछ विशेष चीजों की आवश्यकता है तो वह आपको घर पर भी कुछ मॉनिटरिंग डिवाइस पहनने को दे सकता है।

Master Blood Check-up covering 61 tests like Iron, Vitamn D, Thyroid Function, Complete Hemogram, Renal Profile, Lipid & Cholestrol Profile just in 299 RS click now to avail offer



अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !





अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !