कार्डियक रिहेबिलिटेशन फेज I

भाषा चयन करे

21st November, 2015

Cardiac Punarvas ke Pratham Charan ke liye Vyayam | कार्डियक पुनर्वास के प्रथम चरण के लिए व्यायाम | Phase I Cardiac Rehabilitation Exercise Programजब आप हॉस्पिटल में होते हैं, तभी से कार्डियक रिहेबिलिटेशन (रिहेब) पहला फेज शुरू हो जाता है। इसमें, एक्सरसाइज और शिक्षा जैसी चीजों पर जोर दिया जाता है।

Image Source

 

कार्डिएक रिहेब के पहले फेज में निम्न चीजें शामिल होती हैं-

  • आपकी चिकित्सकीय इतिहास, नैदानिक स्थिति और लक्षणों के आधार पर एक एक्सरसाइज प्रोग्राम तैयार किया जाता है।
  • हॉस्पिटल से निकलने के बाद, ठीक होने के लिए जो भी निर्देश आपको दिए गए है, उसका पालन करने के बारे में बताया जाता है।
  • आपको अपने जीवन शैली में बदलाव लाने की शिक्षा दी जाती है, ताकि भविष्य में आप हृदय से होने वाली समस्याओं के खतरे को कम कर सकें।
  • आप कैसे अपने सेहत में सुधार कर सकते हैं, इस बारे में आपको जानकारी दी जाती है और साथ ही आपको नीचें बताई जा रही चीजों के बारे में भी जानकारी दी जाती है –
  • कैसे आप अपनी भूख और ताकत में वृद्धि कर सकते हैं।
  • कैसे आप अपनी एरोबिक करने की क्षमता को बढ़ा सकते हैं।
  • कैसे आप अपने फेफडे की क्षमता को बढ़ा सकते हैं।
  • यदि आपका हार्ट ट्रांसप्लांट हुआ है तो कैसे आप नए ह्रदय की अस्वीकृति से बच सकते हैं।

आपके स्वस्थ होने की दर, आपकी आयु, लिंग और अन्य स्वास्थ अवस्थाओं पर निर्भर करता है। आपकी अवस्था और आप रिहेब के लिए कैसी प्रतिक्रिया दे रहे हैं, इसी के आधार पर यह तय किया जाता है कि आप रिहेब के उसी फेज में रहेंगे या फिर अगले फेज में जायेगें। हो सकता है कि आप नीचें के फेज में भी वापस आ सकते है। आपको कितना समय उसी फेज में रहना है, इसके लिए कोई तय सीमा नहीं होती है।

जब आप हॉस्पिटल से वापस अपने घर जा रहे हो तो आपके हॉस्पिटल के पुनर्वसन स्टाफ को आपको पूरी जानकारी और संसाधनों के बारे में बताना चाहिए, ताकि आप घर पर भी अपना ख्याल रख सकें। उन्हें आपको आपके क्षेत्र में उपस्थित कार्डियक रिहेब के बारे में भी जानकारी देनी चाहिए।

व्यायाम कार्यक्रम

आपकी चिकित्सकीय इतिहास, नैदानिक स्थिति और लक्षण के आधार पर आपके लिए एक एक्सरसाइज प्रोग्राम तैयार किया जाता है। यदि आपको किसी भी प्रकार की शारीरिक स्र्कावट या कोई मेडिकल इशू है तो एक्सरसाइज शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर से जरूर बात करें।

कार्डिएक रिहेब के फेज 1 में आपको प्रारंभिक सहायता और स्वयं से अपनी देखभाल के बारे में बताया जाता है। साथ ही आपको धीरे धीरे चलना जैसे हल्के-फुल्के व्यायाम करने को कहा जाता है।

  • शुरुआत में आपको बहुत ही सरल से व्यायाम जैसे- कुर्सी पर बैठना और टहलना और जो भी आप आराम से कर सकते हैं, वैसे एक्सरसाइज करने की सलाह दी जाती है। जल्द ही एक्टिव होना आपकी सेहत के लिए अच्छा होता है, क्योकि ज्यादा दिनों तक बिस्तर पर रहने से हमारी मांशपेशियां बहुत जल्दी ही अपनी ताकत ख़त्म करने लगती है।
  • जैसे-जैसे आपकी सेहत में सुधार होने लगता है, आप एक दिन में 2 से 3 बार, 5 से 20 मिनट तक कोई भी एक्टिविटी कर सकते हैं। आपकी रिहेब टीम आपके धड़कनों पर नज़र रखती है, ताकि जब भीं आप चलते या फिर सीढ़ियाँ चढ़ते है तो आपके हृदय की दर बहुत ज्यादा ना हो।
  • आप कितने दिनों तक हॉस्पिटल में रहेगें, यह बात आपकी स्वास्थ समस्या, प्रक्रिया या फिर यदि आपकी सर्जरी हुई हो, तो इस पर निर्भर करता है। हो सकता है कि आपकी कार्डियक रिहेब हॉस्पिटल में केवल 3 से 5 दिनों का ही हो और आपको ऐसी एक्टिविटी के बारे में बताया जाए जिसे आप अपने घर पर ही कर सकते है। यदि आपकी ओपन-हार्ट सर्जरी हुई हो तो हो सकता है कि आपको काफी लम्बे समस्य तक हॉस्पिटल में रहना पढ़ जाएं।

Master Blood Check-up covering 61 tests like Iron, Vitamn D, Thyroid Function, Complete Hemogram, Renal Profile, Lipid & Cholestrol Profile just in 299 RS click now to avail offer



अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !





अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !