कार्डिएक रिहेब में ब्लड प्रैशर और एन्जाइना का उपचार

भाषा चयन करे

17th November, 2015

Cardiac Rehab ke Dauraan Blood Pressure aur Angina | कार्डिएक रिहेब के दौरान ब्लड प्रैशर और एन्जाइना | Blood Pressure and Angina during Cardiac Rehabilitation

ब्लड प्रेशर

आपके कार्डियक रिहेब प्रोग्राम में HR और RPE के अलावा आपके ब्लड प्रेशर (BP) पर भी नज़र रखी जाती है। यदि आप खुद से एक्सरसाइज करते हैं, तो भी आपको अपने BP को चेक करते रहना चाहिए। सामान्यतः आपको सिस्टोलिक BP (पहला नंबर) में धीरे-धीरे वृद्धि की उम्मीद करनी चाहिए, जबकि डायस्टोलिक BP (दूसरा नंबर) में बहुत कम परिवर्तन देखना चाहिए। यदि ऐसा नहीं हो रहा तो जो भी डॉक्टर ने आपके BP के लिए दवाईयां दी हैं उसे खा लें या फिर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

Image Source

एनजाइना

जब आपके हृदय की मांशपेशियों में सही से रक्त प्रवाहित नहीं हो पाता है, तो आपको एनजाइना के लक्षण नज़र आने लगते हैं। इसे मायोकार्डियल इस्कीमिया कहते हैं। इसमें आपको सीनें में दर्द या बेचैनी महसूस होती है। लेकिन यह जरुरी नहीं है कि यह सिर्फ सीने में ही हो, आपको शरीर के दूसरे हिस्सों में भी ऐसा महसूस हो सकता है।

यदि आपके लक्षण बढ़ते जा रहे हैं, तो इससे निजात पाने के लिए आप आराम या फिर नाइट्रोग्लिसरीन लें सकते हैंं।

ऐसे लोग, जिन्हे हृदय से सम्बंधित समस्या होती है, उनमें अक्सर कुछ काम करते वक्त एनजाइना के लक्षण नज़र आ जाते हैं। ऐसे लोगों को लक्षणों की गंभीरता पर नज़र रखनी चाहिए और तुरंत उस काम को बंद कर देना चाहिए। कुछ ऐसे लोग ऐसे भी होते हैं, जिन्हें हृदय की समस्या हो, फिर भी उनमे एनजाइना शायद ही कभी या फिर बिलकुल भी नहीं दिखती। यह महत्वपूर्ण हैं कि आप एनजाइना को समझें और यह भी जाने कि इसके सामान्य और घातक लक्षण क्या हैं।

यदि आपको सीनें में दर्द हो रहा है, और यह वैसा ही दर्द हो जैसा आपके डॉक्टर ने आपको बताया है, तो तुरंत एक्सरसाइज करना बंद कर दें। आप डॉक्टर द्वारा बताई गए दवाइयों को अपने साथ रखें ताकि जब भी आपको एनजाइना के लक्षण दिखे तो आपक उन्हें लें सकें।

साँस लेने में तकलीफ

ज्यादा तीव्रता वाले व्यायाम करने से कभी-कभी आपको हृदय की परेशानी हो सकती है। यदि आपको व्यायाम के दौरान सांसों की तकलीफ हो रही हैं तो इसे डिस्पनिया (Dyspnea) कहते हैं। डिस्पनिया रेटिंग स्केल से यह पता किया जाता हैं कि आपको साँस लेने में कितनी परेशानी हो रही है।

एक्सरसाइज के दौरान डिस्पनिया का स्तर बदलता रहता है। यह मुख्य रूप से आपकी कार्डियक हिस्ट्री और वर्तमान स्वास्थ्य की स्थिति पर निर्भर करता है। सभी स्वास्थ्य पेशेवरों के लिए डिस्पनिया का स्वीकार्य स्तर भी अलग अलग हो सकता है।

रेटिंग नंबर                          डिस्पनिया का स्तर
0 डिस्पनिया नहीं है।
1 हल्का, लेकिन ध्यान देने योग्य।
2 कुछ कठिनाई के साथ हल्का।
3 थोड़ा सी कठिनाई, लेकिन आप व्यायाम चालू रख सकते हैं।
4 बहुत ज्यादा कठिनाई हो तो,  तुरंत व्यायाम रोक दें।

आप डिस्पनिया के स्तर का पता लगा कर, आप अपने व्यायाम की तीव्रता का स्तर भी पता कर सकते हैं, जो आपके लिए सबसे उपयुक्त हो। सामान्य तौर पर, एक्सरसाइज करते समय आपको अपने डिस्पनिया के स्तर को 3 से कम रखना चाहिए। यदि आपको व्यायाम करते समय कभी भी साँस लेने में तकलीफ महसूस हो तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

सभी गणनाओं को एक ही जगह लिख कर रखें-

व्यायाम डायरी, वर्तमान में एरोबिक के स्तर और सेहत में सुधार की पूरी जानकारी का हिसाब रखने का सबसे अच्छा तरीका है। आप हर नोट में, व्यायाम का समय, जितनी दूरी तय की, और व्यायाम की तीव्रता के बारे में लिख कर रखें। इसके अलावा आप मौसम की स्थिति, कपड़े, कोई विशिष्ट जगह, समय, और सब मिलाकर आपने कैसा महसूस किया, इन सभी चीजों के बारें में भी लिख कर रख सकते हैं।

तारीख गतिविधि समय टिप्पणियाँ
3/15/2010 चलना   25 मिनट कुल मिलकर 1. 5 किलोमीटर, मौसम थोड़ा  ठंडा था इसलिए मैंने स्वेटर डाला था। थोड़ी देर के लिए रुका और फिर घर आकर 10 मिनट स्ट्रेचिंगकी। कुल मिलाकर मुझे अच्छा महसूस हुआ और कही भी कोई दर्द नहीं हुआ।

Master Blood Check-up covering 61 tests like Iron, Vitamn D, Thyroid Function, Complete Hemogram, Renal Profile, Lipid & Cholestrol Profile just in 299 RS click now to avail offer



अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !





अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !