पुरुषों में इरेक्टाइल डिसफंक्शन (नपुंसकता) और इसके मुख्य कारण

भाषा चयन करे

4th April, 2016

Erectile Dysfunction Kya Hai? | इरेक्टाइल डिसफंक्शन क्या है? | What is Erection Problem?इरेक्टाइल डिसफंक्शन (ED) या इम्पोटेंस (नपुंसकता), पुरुषों में होने वाला एक यौन रोग है। यह एक प्रकार की ऐसी यौन निष्क्रियता है, जिसमें पुरुष अंतरंग संबंध बना पाने में सक्षम नहीं होते। ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि पुरुषों को अंतरंग संबंध बनाने के लिए उसके जनन अंगों में रक्त का प्रवाह सुचारू होना आवश्यक होता है, लेकिन यदि उनके प्राइवेट अंग की आर्टरीज (धमनियों) में रक्त के संचार में कमी आ जाती है, तो व्यक्ति अंतरंग संबंध बनाने में असफल रहता है।

Image Source

इरेक्शन क्या है?

इरेक्शन, एक ऐसी प्रक्रिया है जो मस्तिष्क से शुरू होती है। यह किसी खास सुगंध, कुछ सुनना या विचारों से भी शुरू हो सकती है। इस प्रक्रिया में, तंत्रिकाओं द्वारा एक केमिकल मैसेज मस्तिष्क से पुरुष के जनन अंग में भेजा जाता है। इस सन्देश के द्वारा जनन अंग की रक्त वाहिकाएं खुल जाती हैं और उनमें रक्त का संचार बढ़ जाता है। जब रक्त, यौन अंग में पहुंचता है तो वह कोरपोरा कावेर्नोसा के उत्तकों में भर जाता है और इससे यौन अंग विस्तृत आकार ले लेता है, जिसे इरेक्शन कहा जाता है। लेकिन जिन पुरुषों में इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या होती है, उनमें तंत्रिकाओं, मस्तिष्क और यौन अंग के बीच न ही तो यह सन्देश पहुंच पाता है, और न ही व्यक्ति को इरेक्शन हो पाता है।

जहाँ यह समस्या बढ़ती उम्र के साथ बढ़ती है, वहीं दूसरी और यदि इस तरह की समस्या किसी युवा को हो रही है, तो इसके बहुत से कारण हो सकते हैं। क्योंकि पुरुषों में, अंतरंग संबंधों के लिए जनन अंगों में रक्त का उचित प्रवाह होना जरूरी है, लेकिन ऐसे बहुत से कारण हो सकते हैं, जिनके कारण व्यक्ति के जनन अंग में रक्त का संचार नहीं होता। उदाहरण के तौर पर, यदि व्यक्ति को हृदय रोग हो,  तनाव या चिंता हो या फिर किसी ऐसी दवाई का प्रयोग जिसके कारण यह समस्या आ सकती है।  

मुख्य कारण

खराब जीवन-शैली और पोषण के अलावा, कुछ अन्य शारीरिक और मानसिक बिमारियां भी इरेक्टाइल डिसफंक्शन को जन्म दे सकती हैं जैसे-

  • हृदय रोगियों में यह समस्या होना आम बात हो सकती है।
  • यदि रक्त वाहिकाओं में रुकावट (अथेरोस्क्लेरोसिस) हो जाए तो भी इरेक्टाइल डिसफंक्शन हो सकता है।
  • जिन व्यक्तियों का कोलेस्ट्रॉल ज्यादा रहता हो उन्हें भी इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है।
  • मधुमेह में भी इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या हो जाती है।
  • मोटापा भी इरेक्टाइल डिसफंक्शन का एक सबसे मुख्य कारण है।
  • मेटाबोलिक सिंड्रोम, जो कई सारी ऐसी समस्याओं का समूह होता है, जिसमें व्यक्ति का ब्लड प्रैशर, इन्सुलिन स्तर, कोलेस्ट्रॉल की समस्या और मोटापा सब एक साथ हो जाता है।
  • पार्किंसंस रोग (तंत्रिका तंत्र से जुड़े रोग)
  • धूम्रपान करने वाले व्यक्तियों में यह समस्या अन्य व्यक्तियों के मुकाबले ज्यादा होती है।
  • कुछ दवाओं का प्रयोग भी इरेक्टाइल डिसफंक्शन को जन्म दे सकता है।
  • दवाओं द्वारा नशा करना भी इसका कारण हो सकता है।
  • मानसिक दबाव और तनाव

इरेक्टाइल डिसफंक्शन का इलाज, इस समस्या के कारणों की जानकारी करने के बाद ही किया जा सकता है। ऐसे में, व्यक्ति को तनाव लेने के बजाय अपने डॉक्टर से इस विषय पर बात करनी चाहिए।



अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !





अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !