प्रेगनेंसी में मतली और उल्टी से राहत के लिए घरेलू उपाय

भाषा चयन करे

16th May, 2017

Pregnancy mein matli aur ulti se raahat ke liye gharelu upaay kyaa hein? | प्रेगनेंसी में मतली और उल्टी से राहत के लिए घरेलू उपाय क्या हैं? | What are the Home remedies for nausea and vomiting in pregnancy? महिला के प्रेग्नेंट होने के बाद, उल्टी और मतली होना बेहद आम बात होती है और लगभग हर महिला को शुरुआती समय में दो से तीन महीनों तक इससे गुजरना ही पड़ता है। भले ही यह एक आम बात हो लेकिन इससे महिलाओं को परेशानी तो होती ही है। ऐसे में, महिलाएं कुछ घरेलू उपायों के द्वारा इस तरह की समस्याओं में राहत पा सकती हैं।

Image Source

ख़ास तौर पर, यदि की महिला उल्टी और मतली की वजह से बहुत अधिक बीमार महसूस कर रही हो, तो उसके लिए उपचार बहुत ही जरुरी हो जाता है। जिसके लिए डॉक्टर दवाइयाँ भी लिखते हैं। लेकिन यह हम सभी अच्छे से जानते हैं कि हर एक दवाई का शरीर पर कोई न कोई दुष्प्रभाव जरूर होता है।

साथ ही एक और जरूरी बात यह कि महिलाएं इस दौरान, अपने खान-पान का ख़ास ख्याल रखें क्योंकि यह आपकी सेहत के साथ-साथ आपके बच्चे के स्वास्थ्य के लिए भी बहुत जरुरी है। साथ ही गर्भवती महिलाओं के लिए यह भी जरूरी होता है कि वह खूब सारा पानी और अन्य तरल लें और खुद को हाइड्रेट रखें।

कुछ ऐसे घरेलू उपाय, जिनसे उल्टी और मतली की समस्या से राहत मिल सकती है:-

नीबू- मतली और उल्टी की समस्या में, निम्बू बेहद उपयोगी है। साथ ही इस दौरान, जब भी आपका खट्टा खाने का मन हो तो बजाय इसके कि आप कुछ अन्य तली-भुनी चीज खाएं, नीबू पानी पिए।

सब का सिरका (एपल सिडर विनेगर)- एपल सिडर विनेगर और शहद को एक साथ मिलाकर लेने से मार्निग सिकनेस जैसी समस्या से निजात मिल जाती है। ऐसे में, मतली और उल्टी की समस्या से छुटकारा पाने के लिए एपल सिडर विनेगर का प्रयोग गर्भवती महिलाएं कर सकती हैं।

विटामिन बी- मतली और उल्टी के इलाज के लिए विटामिन बी भी बहुत फायदेमंद होता है। कैल्शियम और विटामिन बी की सही मात्रा में प्रयोग करने से इस समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है।

गेहूं के बीज और दूध- मतली और उल्टी के लिए दूध में गेहूं के बीज को मिक्स कर उसका सेवन करें।

आहार- 

  • गर्भावस्था के दौरान तले-भुने और मसालेदार खाने से बचें,
  • वैसे खाद्य-पदार्थों को खाने से बचें जिससे आपको गंध महसूस हो,
  • कार्बोहाइड्रेट जैसे खाद्य पदार्थ खाने की कोशिश करें जिसमें- फलों के रस, सादा पके हुए आलू, सफेद चावल और दही शामिल हो।



अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !





अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे !